औरंगाबाद में बनेगा महाराष्ट्र का पहला क्रीड़ा विश्वविद्यालय


  • औरंगाबाद में बनेगा महाराष्ट्र का पहला क्रीड़ा विश्वविद्यालय
    औरंगाबाद में बनेगा महाराष्ट्र का पहला क्रीड़ा विश्वविद्यालय
    खेलो इंडीया स्पर्धा का आयोजन कर केंद्र सरकार स्वामी विवेकानद के सपनों का सुदृढ भारत निर्माण का मंत्र आचरण में ला रहा ...
    1 of 1 Photos

खेलो इंडीया स्पर्धा का आयोजन कर केंद्र सरकार स्वामी विवेकानद के सपनों का सुदृढ भारत निर्माण का मंत्र आचरण में ला रहा है. यही प्रेरणा लेकर क्रीड़ा क्षेत्र में महाराष्ट्र का नाम ऊंचा करने के उद्देश्य से औंरगाबाद में महाराष्ट्र का पहले क्रीड़ा विश्वविद्यालय निर्माण करने की महत्वपूर्ण घोषणा मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने आज की.

महालुंगे-बालेवाडी के श्री शिवछत्रपति क्रीड़ा संकुल में दूसरे “खेलो इंडीया” 2019 स्पर्धा का उद्घाटन मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के हाथों हुआ. इस समय वे बोल रहे थे. इस अवसर पर केंद्रिय क्रीड़ा एवं युवक कल्याण मंत्री कर्नल राजवर्धनसिंग राठोड, पालकमंत्री गिरीश बापट, क्रीडा मंत्री विनोद तावडे, सामाजिक न्याय राज्यमंत्री दिलीप कांबले, सांसद अनिल शिरोळे, आंतरराष्ट्रीय कुश्तिगिर सुशील कुमार, स्पोर्ट ॲथॉरिटी ऑफ इंडिया की महासंचालक नीलम कपूर, क्रीडा विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव वंदना कृष्णा,केंद्र के क्रीडा सचिव राहूल भटनागर, साई के उपमहासंचालक संदीप प्रधान उपस्थित थे.

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा,महाराष्ट्र में खेलो इंडिया का आयोजन करने पर केंद्र सरकार के प्रति आभारी हैं. स्वामी विवेकानंद ने युवाओं को कहा था कि मंदिर में जाने की बजाय फुटबॉल के मैदान पर जाकर खेले. जिस तरह भगवान को सूखे फूल नहीं चलते, उसी प्रकार बिना तंदुरूस्त युवक मातृभूमि को नहीं चलते. सुदृढ युवकों के माध्यम से स्वस्थ भारत के निर्माण का स्वामी विवेकानंद का सपना था.

स्वामी विवेकानंद के विचारों को सरकार आचरण में ला रही है. इसके माध्यम से खेलो इंडीया स्पर्धा का आयोजन किया गया है. इसके जरिये युवाओं को एक मंच मिला है. इस स्पर्धा के माध्यम से प्रतिभाशाली खिलाड़ी देश को।मिलेंगे.



add like button Service und Garantie

Leave Your Comments

Other News Today

Video Of The Week