नागपुर विद्यापीठ के दीक्षांत समारोह में एचसीएल संस्थापक शिव नाडर होंगे मुख्य अतिथि


  • नागपुर विद्यापीठ के दीक्षांत समारोह में एचसीएल संस्थापक शिव नाडर होंगे मुख्य अतिथि
    नागपुर विद्यापीठ के दीक्षांत समारोह में एचसीएल संस्थापक शिव नाडर होंगे मुख्य अतिथि
    नागपुर विद्यापीठ का १०६ वा दीक्षांत समारोह १९ जनवरी को सबुह ९.३० बजे शहर के सिविल लाइंस स्थित...
    1 of 1 Photos

नागपुर : नागपुर विद्यापीठ का १०६ वा दीक्षांत समारोह १९ जनवरी को सबुह ९.३० बजे शहर के सिविल लाइंस स्थित देशपांडे सभागृह में होने जा रहा है I बता दे की बीते पांच माह से जारी तलाश और ड्रामे पर आखिरकार विराम लग गया है। इस वर्ष दीक्षांत समारोह में एच.सी.एल. के संस्थापक शिव नाडर मुख्य अतिथि होंगे। केंद्रीय मंत्री नितीन गडकरी की कार्यक्रम में विशेष उपस्थिति होगी साथ ही राज्यपाल सी. विद्यासागर राव कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगे। 

इस महत्वपूर्ण समारोह के लिए पांच माह के दौरान पांच राजनीतिक और उद्योग जगत की हस्तियों के इनकार के बाद आखिरकार मुख्य अतिथि के नाम तय हुवे है। नागपुर विश्वविद्यालय में अगस्त २०१८ में दीक्षांत समारोह की तैयारियां शुुरू हुई थीं। दीक्षांत समारोह का नवंबर माह में आयोजन प्रस्तावित था। इसके लिए बतौर मुख्य अतिथि नागपुर विवि ने तीन नाम तय किए थे। सबसे पहले विश्वविद्यालय ने टाटा उद्योग के रतन टाटा , फिर रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के मुकेश अंबानी को बतौर मुख्य अतिथि आमंत्रित किया, लेकिन फिक्स टाइम शेड्यूल के चलते उन्होंने न्याोता स्वीकार नहीं किया। इसके बाद मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर से लेकर तो रेल मंत्री पीयूष गोयल और फिर आईआईएम अहमदाबाद के संचालक प्रो. एरेल डिसूजा ने भी न्योता स्वीकार नहीं किया।

इस बार के दीक्षांत समारोह में करीब १५० मेडल कम हो गए हैं। साथ ही परंपरागत चले आ रहे मेडल्स में से महज १८९ मेडल इस बार भी जारी रहेंगे। नागपुर विद्यापीठ ने दीक्षांत समारोह में ब्रिटीशकालीन कैप और गाऊन को अलविदा कह कर जोधपुरी कोट अपनाया है। अब तक जारी परंपरा के अनुसार दीक्षांत समारोह में विवि कुलगुरु, प्र-कुलगुुरु, कुलसचिव, परीक्षा नियंत्रक और वित्त व लेखा अधिकारी समेत सभी प्राधिकरण के सदस्य कैप और गाऊन धारण करते थे। पीएचडी डिग्री पाने वाले विद्यार्थी सफेद फॉर्मल कपड़ों पर दुपट्टा धारण करते थे, लेकिन अब आगामी दीक्षांत समारोह में कैप और गाऊन की जगह पारंपारिक जोधपुरी कोट धारण किया जाएगा।



add like button Service und Garantie

Leave Your Comments

Other News Today

Video Of The Week